Purane Phone Ke Speed Bhadaye

अक्सर आपके साथ भी ऐसा होता होगा कि जब किसी का फोन आता है तो यह हैंग होने लग जाता है, बटन पर टैप करते हैं, लेकिन वह काम नहीं करता है। कोई ऐप ओपन करते हैं लेकिन वह खुलने में ज्यादा समय लेता है और गेमिंग के दौरान भी सही स्पीड नहीं मिलती। अगर ऐसा नियमित तौर पर होने लगे तो चिढ होने लगती है। पर नए फोन के साथ ही कुछ चीजों का ध्यान रखा जाए, तो न सिर्फ फोन की लाइफ बढ़ जाती है, बल्कि उसका परफॉर्मेंस भी बना रहता है।

अपडेट करें सिस्टम सॉफ्टवेयर




जब कोई स्मार्टफोन लॉन्च होता है, तो वह एक खास ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ आता है, लेकिन कंपनी हर साल नए वर्जन वाले ओएस (ऑपरेटिंग सिस्टम) की घोषणा करती है, जो पुरानी डिवाइस के लिए उपलब्ध होता है। ओएस अपडेट के साथ कंपनियां समय-समय पर सिक्योरिटी अपडेट भी जारी करती रहती हैं।
यह अपडेट स्मार्टफोन की परफॉर्मेंस को बनाए रखने में उपयोगी होते हैं, लेकिन बहुत सारे यूजर ऐसे भी होते हैं जो इन अपडेट को नजरअंदाज कर देते हैं। यह बाद में फोन की परफॉर्मेंस को प्रभावित करने लगते हैं। एंड्रॉयड फोन इस्तेमाल कर रहे हैं आईफोन, फोन की सेटिंग में जाकर अपडेट को चेक कर सकते हैं। अच्छी बात यह है कि अपडेट्स को मैंनुअली भी चेक( Setting>System>About>Software>Update) किया जा सकता है। वैसे, तो ज्यादातर अपडेट्स के दौरान यूजर को अपने स्मार्टफोन का बैकअप रखने की जरूरत नहीं होती है, लेकिन अगर बैकअप ले लेते हैं, तो बेहतर होगा।



  • •  पुराने फोन में बेहतर परफॉर्मेंस के लिए थर्ड पार्टी लांचर का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह ज्यादातर कस्टम फीचर को हटा देता है साथ ही यूजर को पर्सनलाइजेशन का विकल्प मिलता है।
  • • अगर स्मार्ट फोन धीमा हो रहा है तो एनीमेशंस को टर्न ऑफ कर सकते हैं। इसका डे - टु - डे टास्क पर कोई खास असर नहीं पड़ता है।
  • • ऑटो अपडेट टर्न ऑफ करके भी परफॉर्मेंस में सुधार लाया जा सकता है। कई बार ऐसा भी होता है कि एप से ज्यादा बढ़ा उसका अपडेटड होता है, जो कस्टम स्टोरेज वाले फोन में ज्यादा स्पेस ले लेता है।
  • • एंड्रॉयड फोन के लिए यूजर लाइट वर्जन एप्स का इस्तेमाल भी कर सकते हैं के लिए फेसबुक लाइट, गूगल मैप्स गो, जिमेल गो, स्काइप लाइट, यूट्यूब आदि का उपयोग कर सकते हैं।


बैकग्राउंड प्रोसेस को करें डिसएबल

बहुत सारे ऐप्स बैकग्राउंड में रन करते रहते हैं। इस तरह के  है से एप्स स्मार्ट फोन की स्पीड को प्रभावित करते हैं। कौन - सा एप बैकग्राउंड में चल रहा है, इसे जानने के लिए सेटिंग में एप सेक्शन में जाना होगा। यहां पर आपको रनिंग का टैब दिखाई देगा। आप यहां पता लगा सकते हैं कौन सा ऐप बैकग्राउंड मे चल रहा है। अगर ऐसे एप्स का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं, तो फिर उन्हें अनइंस्टॉल करना ही बेहतर होगा।
इसके अलावा, कुछ और एप्स बैकग्राउंड में सिंक होते रहते हैं। अगर इसकी जरूरत नहीं है, तो फिर सिंक्रोनाइजेशन को बंद करना बेहतर होगा। इसके लिए एंड्राइड यूजर "एडवांस टास्क मैनेजर" एप का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। याह बहुत ज्यादा मेमोरी इस्तेमाल करने वाले एप्स या फिर स्मार्टफोन को धीमा करने वाले एप्स को बंद कर देता है और फोन की परफॉर्मेंस को बेहतर करता है।


जो जरूरी नहीं है उसे हटाएं

बहुत सारे ऐसे ही युजर भी होते हैं जो बिना जरूरत वाले एप्स को भी इंस्टॉल कर लेते हैं। पर फोन में जरूरत से ज्यादा एप्स है, तो यह फोन की स्पीड को प्रभावित कर सकता है। इसलिए जो एप्स की जरूरत नहीं है, उन्हें हटाना ही बेहतर होगा। हालांकि कुछ एप्स फोन के साथ फ्रीइंस्टॉल आते हैं जिन्हें अनइनस्टॉल नहीं कर सकते हैं, लेकिन उन्हें डिसएबल किया जा सकता है। इसके अलावा, लाइव वॉलपेपर और होम स्क्रीन पर बहुत ज्यादा विजेट्स भी स्मार्टफोन की परफॉर्मेंस परफॉर्मेंस को भी प्रभावित करते हैं। अगर फोन घीमा हो रहा है, तू फिर सिंपल वॉलपेपर का और कम विजेट का उपयोग करना ही सही होगा।

ब्राउज़र कैश और स्टोरेज को करें क्लीन



अगर आपका फोन पुराना (1 या 2 साल) हो गया है, तो पुराने डॉक्यूमेंट, पिक्चर कैशे और इस्तेमाल नहीं किए जाने वाले एप्स की वजह से भी इंटरनल स्टोरेज फुल होने लगती है। इससे भी परफॉर्मेंस पर असर पड़ता है। फोन की स्पीड को बेहतर करना चाहते हैं तो फिर इंटरनल स्टोरेज का 10 से 20 फ़ीसदी खाली होना जरूरी है। आजकल तकरीबन सभी स्मार्टफोन में माइक्रोएसडी कार्ड स्लॉट मौजूद होता है।यूजर अपने सभी फोटो, म्यूजिक और वीडियो के साथ एप्स को भी माइक्रो एसडी कार्ड में मुंव कर सकते हैं। एप्स को इंटरनल स्टोरेज से एसडी कार्ड में करने के लिए 'मूव एप टू एसडी कार्ड' का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा, पुराने फोन में बेहतर ब्राउजिग के लिए इसकी हिस्ट्री को भी डिलीट किया जा सकता है। गूगल और एप्पल डिवाइस में ऐसे टूल्स मौजूद हैं जिनकी मदद से स्मार्टफोन ब्राउज़र को आसानी से क्लिन किया जा सकता है। अगर आईओएस और एंड्रॉयड पर क्रोम ब्राउजर इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इसे ओपन करने के बाद आपको सेटिंग में जाना होगा।
फिर नीचे की तरफ स्कॉल कर प्राइवेसी पर टैप करें, यहां पर 'क्लीन ब्राउजिंग डाटा' पर क्लिक कर क्लीन कर सकते हैं। अगर आईफोन पर सफारी ब्राउजर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो फिर फोन की सेटिंग को ओपन करें और यहां सफारी को सर्च करें। फिर 'क्लियर हिस्ट्री एंड वेबसाइट' पर क्लिक कर कैशे फाइल को क्लीन कर सकते हैं।

करें फैक्ट्री रिसेट

अगर इन उपायों से भी फोन की स्पीड में सुधार नहीं होता है, तो फिर आखिरी तरीका फैक्ट्री रिसेट ही है। हालांकि फैक्ट्री रिसेट के दौरान आपको ध्यान रखना होगा कि इस प्रक्रिया से फोन के सभी डाटा, फोटो, एप्स आदि डिलीट हो जाएंगे। इसलिए फैक्ट्री रिसेट से पहले जरूरी डाटा का वेकअप जरूर ले लें। यह ऑप्शन आपको फोन के सेटिंग में मिलेगा।

आपको यह पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएं और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें ताकि वह भी अपने फोन की प्रॉब्लम से दूर हो सकता हॉरर मूवी चलाने में आसानी हो।

Hello Dosto, Mera naam Shailendra kumar hai. Mujhe logo ki Help karna pasand hai. ye site maine bai hai jaha par mai logo ki help karta hu hindi me. is site par aapko internet, blogger, youtube, seo, adsense, tips and tricks se releted jankari milegi.

2 comments:

Get Free Latest Update

Sign up email newsletter to receive email updates in your email inbox!

Enter your email address:

Follow Us